Amrit Ki Disha (अमृत की दिशा)

From The Sannyas Wiki
Jump to: navigation, search


इस पुस्तक में ओशो हमें एक दिशा देते हैं—साहस की दिशा। साहस—उधार के विश्वासों से मुक्त होने का। साहस—तथ्यों को आर-पार देखने का। साहस—आत्म-जागरण के मार्ग पर चलने का। साहस—आनंदित होने का।
साथ ही चर्चा है मनुष्य-मन के कई प्रश्नों पर:
  • चित्त कैसे स्वतंत्र हो?
  • सत्य शास्त्रों में नहीं, तो कहां है?
  • पाप क्या है? क्या है उसका मूल?
  • अंतःसंघर्ष को कैसे मिटाएं?
notes
Available as e-book and a partial audiobook. See discussion for details and a TOC.
Last 4 chapters published also as Samadhi Ke Teen Charan (समाधि के तीन चरण).
time period of Osho's original talks/writings
Jun 18, 1965 to Dec 15, 1965 : timeline
number of discourses/chapters
8


editions

Amrit Ki Disha 1976 cover.jpg

Amrit Ki Disha (अमृत की दिशा)

Year of publication : 1976
Publisher : Star Publication (P) Ltd, New Delhi
Edition no. : 1
ISBN
Number of pages : 146
Hardcover / Paperback / Ebook :
Edition notes :

2329 sml.jpg

Amrit Ki Disha (अमृत की दिशा)

Year of publication : 2002
Publisher : The Rebel Publishing House, Pune, India
Edition no. : 1
ISBN 81-7261-180-3 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 164
Hardcover / Paperback / Ebook :
Edition notes :

Am-Disha4.jpg

Amrit Ki Disha (अमृत की दिशा)

Year of publication : 2004
Publisher : Diamond Books
Edition no. :
ISBN 8128807072 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 144
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes : See discussion for lots of variations in this edition

Am-Disha2.jpg

Amrit Ki Disha (अमृत की दिशा)

Year of publication :
Publisher : The Rebel Publishing House, Pune, India
Edition no. : 2?
ISBN 81-7261-180-3 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 168
Hardcover / Paperback / Ebook :
Edition notes :