Bhog Aur Daman Ke Paar (भोग और दमन के पार)

From The Sannyas Wiki
Jump to: navigation, search


translated from
English: Vigyan Bhairav Tantra, First Series (ch.25-32)
notes
Previously published as Tantra-Sutra, Bhag 4 (तंत्र-सूत्र, भाग चार). See Tantra-Sutra (तंत्र-सूत्र) (series) for other vols.
time period of Osho's original talks/writings
Jan 22, 1973 to Jan 29, 1973 : timeline
number of discourses/chapters
8 (numbered 25-32)   (see table of contents)


editions

Bhog Aur Daman Ke Paar2.jpg

Bhog Aur Daman Ke Paar (भोग और दमन के पार)

विज्ञान भैरव तंत्र : चौथा खंड (Vigyan Bhairav Tantra: 4 Khand)

Year of publication : 1998
Publisher : Hind Pocket Books
Edition no. :
ISBN 81-216-0712-4 (click ISBN to buy online)
Number of pages :
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes :

Bhog Aur Daman Ke Paar1.jpg

Bhog Aur Daman Ke Paar (भोग और दमन के पार)

Year of publication : 2006
Publisher : Hind Pocket Books
Edition no. :
ISBN 81-216-0712-4 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 208
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes :

table of contents

edition 1998
chapter titles
discourses
event location duration media
25 शब्द, ध्वनि और अनाहत
37. शब्दों और ध्वनियों के पार
38. अपने को ध्वनियों के केंद्र में अनुभव करो
22 Jan 1973 pm Woodlands, Bombay 1h 44min audio
26 तंत्र : घाटी और शिखर की स्वीकृति
1. क्‍या हम सचेतन रूप से वृत्तियों का नियमन और संयमन करें?
2. अराजक शोरगुल को विधायक ध्वनि में कैसे बदलें?
23 Jan 1973 pm Woodlands, Bombay 1h 18min audio
27 ध्वनि-संबंधी तीन विधियां
39. किसी ध्वनि का उच्चार करो और उसमें डूब जाओ
40. शून्य में खोती किसी ध्वनि को सुनते रहो
41. किसी तार वाले वाद्य को सुनो
24 Jan 1973 pm Woodlands, Bombay 1h 26min audio
28* ध्यान : दमन से मुक्ति
1. दमन इतना सहज सा हो गया है कि हम कैसे जानें कि हममें असली क्या है?
2. कृपया मंत्र दीक्षा की प्रक्रिया और उसे गुप्त रखने के कारणों पर प्रकाश डालें।
3. सक्रिय ध्यान के अराजक संगीत और पश्चिमी रॉक संगीत में क्या फर्क है?
25 Jan 1973 pm Woodlands, Bombay 1h 32min audio
29 ध्वनि से मौन की यात्रा
42. ध्वनि का उपयोग भाव-प्रवेश के लिए करो
43. अपने मन को जीभ पर एकाग्र करो
44. संवेदनशील कान वालों के लिए एक विधि
26 Jan 1973 pm Woodlands, Bombay 1h 31min audio
30 संभोग, स्वीकार और समर्पण
1. अगर तंत्र मध्य में रहने को कहता है तो भोग और दमन के फर्क को कैसे समझा जाए?
2. क्या गुरु के प्रति खुले होने और कामवासना के प्रति खुले होने के बीच कोई संबंध है?
27 Jan 1973 pm Woodlands, Bombay 1h 22min audio
31 शब्द से शांति की ओर
45. अः से अंत होने वाले किसी शब्द का उच्चार करो
46. कानों को बंद करना और गुदा को सिकोड़ना
47. अपने नाम का मंत्र की तरह उपयोग करो
28 Jan 1973 pm Woodlands, Bombay 1h 33min audio
32 समर्पण का मार्ग : तंत्र
1. ये विधियां तंत्र की केंद्रीय विषय-वस्तु हैं या योग की?
2. संभोग को ध्यान कैसे बनाएं? क्या किसी विशेष आसन का अभ्यास जरूरी है?
3. अनाहत नाद कोई ध्वनि है या निर्ध्वनि?
29 Jan 1973 pm Woodlands, Bombay 1h 18min audio
* This chapter incorrectly numbered in TOC as first "29".