Krishna Smriti (कृष्ण स्मृति)

From The Sannyas Wiki
Jump to: navigation, search
Djyoti05.jpg


सोलह कला संपूर्ण व्यक्तित्व वाले कृष्ण कोई व्यक्ति नहीं, एक संपूर्ण जीवन-दृ‍ष्टि के रूप में हमारे जीवन के कैनवस पर अपने रंग बिखेरते चलते हैं। भारतीय जन-मानस पर कृष्ण की इतनी गहरी छाप ने ओशो को समझने में बहुत बड़ा योगदान दिया है। कृष्ण ने जीवन को उसके सभी आयामों में अंगीकार किया है। संस्कारों में बंधे व्यक्ति के लिए यह इतना आसान नहीं परंतु भले ही अवतार की छवि ‍के रूप में, लेकिन कहीं तो उसका अंतरतम उसे सब स्वीकारने को आंदोलित करता है। उसी साहस को जुटाने के लिए शायद ओशो जैसे रहस्यदर्शी द्वारा इस पुस्तक में की गयी चर्चा सहायक होगी। २६ सितंबर १९७० में नव-संन्यास का सूत्रपात हुआ और २८ सितंबर को ओशो ने इस विषय पर जो प्रवचन दिया वह परिशिष्ट के रूप में इस पुस्तक में जोड़ा गया है जिसमें नव-संन्यास को लेकर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर हैं।
notes
Discourses from Bombay: July 20, 1970 and Kullu (Manali): September 26 - October 5, 1970. Manali talks are those given at a Meditation Camp to the first group Osho "officially" initiated into sannyas, image at right, click for details.
Previously published as Krishna: Meri Drishti Mein (कृष्ण : मेरी दृष्टि में) (1978 ed.).
Later published as five separate books by Diamond Books:
Translated into English as Krishna: The Man and His Philosophy.
time period of Osho's original talks/writings
Jul 20, 1970 to Oct 5, 1970 : timeline
number of discourses/chapters
22   (see table of contents)


editions

Blank.jpg

Krishna Smriti (कृष्ण स्मृति)

Year of publication : 1989~1996
Publisher :
ISBN
Number of pages :
Hardcover / Paperback / Ebook :
Edition notes : Sources: list of books from Hari Om Tatsat (हरि ॐ तत्सत्) (1989.03 ed.: as "upcoming publication"), and from Osho Diary 1997 (the image.

Ksmriti.jpg

Krishna Smriti (कृष्ण स्मृति)

हीरे जो कभी परखे ही न गए (Hire Jo Kabhi Parakhe Hi Na Gae)

Year of publication : 2001
Publisher : Rebel Publishing House, India
ISBN 978-81-726-1023-4 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 516
Hardcover / Paperback / Ebook : H
Edition notes :

Krishna Smriti 3.jpg

Krishna Smriti (कृष्ण स्मृति)

हीरे जो कभी परखे ही न गए (Hire Jo Kabhi Parakhe Hi Na Gae)

Year of publication : 2011
Publisher : Osho Media International
ISBN 978-81-726-1023-4 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 516
Hardcover / Paperback / Ebook : H
Edition notes :

Krishna Smriti 2.jpg

Krishna Smriti (कृष्ण स्मृति)

हीरे जो कभी परखे ही न गए (Hire Jo Kabhi Parakhe Hi Na Gae)

Year of publication : 2018
Publisher : Osho Media International
ISBN 978-0-88050-828-5 (click ISBN to buy online)
Number of pages :
Hardcover / Paperback / Ebook : E
Edition notes :

Krishna Smriti 2.jpg

Krishna Smriti (कृष्ण स्मृति)

हीरे जो कभी परखे ही न गए (Hire Jo Kabhi Parakhe Hi Na Gae)

Year of publication : 2019
Publisher : Diamond Books
ISBN 9789352969159 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 516
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes :

table of contents

edition 2019
chapter titles
discourses
event location duration media
1 हंसते व जीवंत धर्म ‍के प्रतीक कृष्ण 20 Jul 1970 pm C.C.I. Chambers, Bombay 1h 10min audio
2 इहलौकिक जीवन के समग्र स्वीकार के प्रतीक कृष्ण 26 Sep 1970 am Manali (HP), meditation camp 1h 56min audio
3 सहज शून्यता के प्रतीक कृष्ण 26 Sep 1970 pm Manali (HP), meditation camp 1h 9min audio
4 स्वधर्म-निष्ठा ‍के आत्यंतिक प्रतीक कृष्ण 27 Sep 1970 am Manali (HP), meditation camp 1h 32min audio
5 'अकारण' के आत्यंतिक प्रतीक कृष्ण 27 Sep 1970 pm Manali (HP), meditation camp 0h 55min audio
6 जीवन के बृहत् जोड़ के प्रतीक कृष्ण 28 Sep 1970 am Manali (HP), meditation camp 1h 55min audio
7 जीवन में महोत्सव के प्रतीक कृष्ण 28 Sep 1970 pm Manali (HP), meditation camp 1h 13min audio
8 क्षण-क्षण जीने के महाप्रतीक कृष्ण 29 Sep 1970 am Manali (HP), meditation camp 1h 43min audio
9 विराट जागतिक रासलीला के प्रतीक कृष्ण 29 Sep 1970 pm Manali (HP), meditation camp 1h 9min audio
10 स्वस्थ राजनीति के प्रतीकपुरुष कृष्ण 30 Sep 1970 am Manali (HP), meditation camp 1h 52min audio
11 मानवीय पहलूयु‍क्त भगवत्ता ‍के प्रतीक कृष्ण 30 Sep 1970 pm Manali (HP), meditation camp 1h 18min audio
12 साधनारहित सिद्धि के परमप्रतीक कृष्ण 1 Oct 1970 am Manali (HP), meditation camp 1h 30min audio
13 अचिंत्य-धारा ‍के प्रतीकबिंदु कृष्ण 1 Oct 1970 pm Manali (HP), meditation camp 1h 25min audio
14 अकर्म के पूर्ण प्रतीक कृष्ण 2 Oct 1970 am Manali (HP), meditation camp 1h 53min audio
15 अनंत सागर-रूप चेतना ‍के प्रतीक कृष्ण 2 Oct 1970 pm Manali (HP), meditation camp 1h 21min audio
16 सीखने की सहजता के प्रतीक कृष्ण 3 Oct 1970 am Manali (HP), meditation camp 1h 38min audio
17 स्वभाव की पूर्ण खिलावट के प्रतीक कृष्ण 3 Oct 1970 pm Manali (HP), meditation camp 1h 0min audio
18 अभिनय-से जीवन के प्रतीक कृष्ण 4 Oct 1970 am Manali (HP), meditation camp 1h 39min audio
19 फलाकांक्षामुक्त कर्म के प्रतीक कृष्ण 4 Oct 1970 pm Manali (HP), meditation camp 1h 13min audio
20 राजपथरूप भव्य जीवनधारा के प्रतीक कृष्ण 5 Oct 1970 am Manali (HP), meditation camp 1h 54min audio
21 वंशीरूप जीवन के प्रतीक कृष्ण 5 Oct 1970 pm Manali (HP), meditation camp 1h 3min audio
22 परिशिष्ट : नव-संन्यास 28 Sep 1970 pm Manali (HP), meditation camp 1h 21min audio