Osho Ka Mayakhana (ओशो का मयखाना)

From The Sannyas Wiki
Jump to: navigation, search


ओशो अपने आश्रम को मधुशाला कहना ज्यादा पसद करते है। उनके प्रवचनो मे जैसे होश बढ़ाने वाली शराब ही ढलती है। उनके द्वारा उद्धृत विभिन्न प्रसिद्ध गजलो का सकलन आपको भी नशे मे झुमा देगा।
notes
time period of Osho's original talks/writings
(unknown)
number of discourses/chapters


editions

Osho Ka Mayakhana.jpg

Osho Ka Mayakhana (ओशो का मयखाना)

Year of publication : 2015
Publisher :
ISBN 978-9385200847 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 120
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes :