Piv Piv Laagi Pyas (पिव पिव लागी प्यास)

From The Sannyas Wiki
Jump to: navigation, search


नदी बह रही है, तुम प्यासे खड़े हो; झुको, अंजुली बनाओ हाथ की, तो तुम्हारी प्यास बुझ सकती है। लेकिन तुम अकड़े ही खड़े रहो, जैसे तुम्हारी रीढ़ को लकवा मार गया हो, तो नदी बहती रहेगी तुम्हारे पास और तुम प्यासे खड़े रहोगे। हाथ भर की ही दूरी थी, जरा से झुकते कि सब पा लेते। लेकिन उतने झुकने को तुम राजी न हुए। और नदी के पास छलांग मार कर तुम्हारी अंजुली में आ जाने का कोई उपाय नहीं है। और आ भी जाए, अगर अंजुली बंधी न हो, तो भी आने से कोई सार न होगा।
शिष्यत्व का अर्थ है: झुकने की तैयारी। दीक्षा का अर्थ है: अब मैं झुका ही रहूंगा। वह एक स्थायी भाव है। ऐसा नहीं है कि तुम कभी झुके और कभी नहीं झुके। शिष्यत्व का अर्थ है, अब मैं झुका ही रहूंगा; अब तुम्हारी मर्जी। जब चाहो बरसना, तुम मुझे गैर-झुका न पाओगे।
ओशो
notes
Osho has two series on Dadu, a 16th c Gujarati saint, this and Sabai Sayane Ekmat (सबै सयाने एकमत), a couple of months later. Talks for both series were given in Poona. See discussion for a small matter of publishing history interest.
Later the first five chapters published as Ram Naam Nij Aushadhi (राम नाम निज औषधि) and the last five chapters - as Dadu Sahajai Dekhiye (दादू सहजै देखिये).
time period of Osho's original talks/writings
Jul 11, 1975 to Jul 20, 1975 : timeline
number of discourses/chapters
10   (see table of contents)


editions

Piv Piv 1976 cover.jpg

Piv Piv Laagi Pyas (पिव पिव लागी प्यास)

Year of publication : Jul 1976
Publisher : Rajneesh Foundation
ISBN : none
Number of pages : 310
Hardcover / Paperback / Ebook : H
Edition notes : 3000 copies.

Piv Piv 1976 cover.jpg

Piv Piv Laagi Pyas (पिव पिव लागी प्यास)

Year of publication : Jul 1976
Publisher : Rajneesh Foundation
ISBN : none
Number of pages : 310
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes :

PivPiv2.jpg

Piv Piv Laagi Pyas (पिव पिव लागी प्यास)

Year of publication : 2008
Publisher : Diamond Pocket Books Pvt. Ltd.
ISBN 9789390088683 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 262
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes :

PivPiv2.jpg

Piv Piv Laagi Pyas (पिव पिव लागी प्यास)

Year of publication : 2012
Publisher : Osho Media International
ISBN 978-81-7261-253-5 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 252
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes :

PivPiv2.jpg

Piv Piv Laagi Pyas (पिव पिव लागी प्यास)

Year of publication : 2018
Publisher : Osho Media International
ISBN 978-0-88050-831-5 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 515
Hardcover / Paperback / Ebook : E
Edition notes :

table of contents

editions 1976.07, 2008**
chapter titles
discourses
event location duration media
1 गैब मांहि गुरुदेव मिल्या 11 Jul 1975 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 32min audio
2 जिज्ञासा पूर्ति : एक** 12 Jul 1975 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 21min audio
3 राम नाम निज औषधि** 13 Jul 1975 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 25min audio
4 जिज्ञासा-पूर्ति : दो 14 Jul 1975 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 18min audio
5 सबदै ही सब उपजै 15 Jul 1975 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 23min audio
6 जिज्ञाना-पूर्ति : तीन 16 Jul 1975 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 29min audio
7 ल्यौ लागी तब जाणिये** 17 Jul 1975 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 17min audio
8 जिज्ञासा-पूर्ति : चार 18 Jul 1975 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 23min audio
9 मन चित चातक ज्यूं रटै 19 Jul 1975 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 25min audio
10 जिज्ञासा-पूर्ति : पांच 20 Jul 1975 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 28min audio
** 2008 ed. has the same chapter titles as 1976 ed., except:
  • ch.2 = जिज्ञासा-पूर्ति : एक
  • ch.3 = राम-नाम निज औषधि
  • ch.7 = ल्यौ लागी तब जाणिए