Samadhi Ke Teen Charan (समाधि के तीन चरण)

From The Sannyas Wiki
Jump to: navigation, search


साधो! सहज समाधि भली। उसका अर्थ है, उसका अर्थ है कि जो बिलकुल सहज होकर देखेगा, उसे समाधि उत्पन्न हो जाएगी। विकार विलीन हो जाएंगे और भीतर से उसका जन्म होगा जो सत्य है। लेकिन यह किसी के पीछे जाने से नहीं होगा, अपने ही भीतर आने से होगा।
notes
Four talks given to a live audience in Ahmednagar, in upstate Maharashtra, available in audio. Translated into English as Three Steps to Awakening. See discussion for an audio-TOC.
Later published as the last four chapters of Amrit Ki Disha (अमृत की दिशा).
time period of Osho's original talks/writings
Dec 13, 1965 to Dec 15, 1965 : timeline
number of discourses/chapters
4


editions

Blank.jpg

Samadhi Ke Teen Charan (समाधि के तीन चरण)

Year of publication : 1965 **
Publisher : publisher unknown
Edition no. : 1
ISBN  ? (click ISBN to buy online)
Number of pages :  ?
Hardcover / Paperback / Ebook :
Edition notes :

Samadhi Ke Teen Charan 2019 cover.jpg

Samadhi Ke Teen Charan (समाधि के तीन चरण)

Year of publication : 2019
Publisher : Osho Media International
Edition no. :
ISBN 978-0-88050-979-4 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 196
Hardcover / Paperback / Ebook : E
Edition notes : 4 chapters.