Samadhi Ki Surahi (समाधि की सुराही)

From The Sannyas Wiki
Jump to: navigation, search


ऐसा कौन है जगत में जो ‘समाधि की सुराही’ से न पीना चाहता हो, क्‍योंकि यही एकमात्र सुराही है जो भरी है आनंद से शांति से, करुणा से, मैत्री से, प्रेम से, उत्‍सव से, सत से, चित से, अमृतत्‍व से। इस ग्रंथ की जो एक अन्‍य खूबी है वह यह कि संत रज्‍जब के सूत्रों को हमारे लिए बोधगम्‍य बनाबने के अलावा ओशो साधकों, जिज्ञासुओं के प्रश्‍नों के समधान भी देते चलते हैं। ये प्रश्‍न आपके है, मेरे है, हम सबके हैं, ये सार्वभौम है, क्‍योंकि प्रत्‍येक गैर-जागा हुआ व्‍यक्ति समस्‍त गैर-जागे हुए व्‍यक्तियों का प्रतिनिधि है, जैसे कि हर जागी हुई चेतना समस्‍त जागी हुई चेतनाओं की प्रतिनिधि है। इसलिए यह सारा वार्तालाप हमारे ही जीवन से सीधा संबंधित है।
notes
Originally published as ch.11-20 of Santo, Magan Bhaya Man Mera (संतो, मगन भया मन मेरा).
time period of Osho's original talks/writings
May 22, 1978 to May 31, 1978 : timeline
number of discourses/chapters
10   (see table of contents)


editions

Samadhi Ki Surahi2.jpg

Samadhi Ki Surahi (समाधि की सुराही)

Year of publication :
Publisher : Diamond Pocket Books
ISBN
Number of pages :
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes :

Blank.jpg

Samadhi Ki Surahi (समाधि की सुराही)

Year of publication : ≤2002
Publisher : Diamond Pocket Books
ISBN
Number of pages :
Hardcover / Paperback / Ebook :
Edition notes : Source: lists of books from Bhavna Ke Bhojpatron Par Osho (भावना के भोजपत्रों पर ओशो) (2002 ed.)

Samadhi Ki Surahi.jpg

Samadhi Ki Surahi (समाधि की सुराही)

संत रज्जब की वाणी पर ओशो के प्रवचन (Sant Rajjab Ki Vani Par Osho Ke Pravachan)

Year of publication : 2007
Publisher : Diamond Pocket Books
ISBN 81-7182-261-4 (click ISBN to buy online)
Number of pages : 352
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes :

table of contents

edition 2007
chapter titles
discourses
event location duration media
1 राम बिन सावन सह्यो न जाइ 22 May 1978 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 39min audio
2 नीड़-निर्माण का मजा : जब आँधी हो 23 May 1978 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 43min audio
3 गुरु की याद में रंग भी बहुत, नूर भी बहुत 24 May 1978 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 48min audio
4 उपासना चेष्टारहित चेष्टा है 25 May 1978 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 50min audio
5 बिरहिण बिहरे रैनदिन 26 May 1978 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 42min audio
6 गुरु दर्पण है 27 May 1978 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 46min audio
7 परमात्मा के बिना कोई भराव नहीं 28 May 1978 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 49min audio
8 मैं स्वागत हूँ 29 May 1978 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 31min audio
9 रज्जब आपा अरपिदे 30 May 1978 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 38min audio
10 प्रभु की खोज को एक लपट बनाओ 31 May 1978 am Chuang Tzu Auditorium, Poona 1h 39min audio