Talk:Man Ka Darpan (मन का दर्पण)

From The Sannyas Wiki
Jump to: navigation, search
TOC from audiobook TOC from the text from Shailendra
1. महत्वाकांक्षा एक नया द्वार
2. मैं कौन हूं? स्वयं को जानना सरलता है
3. असंग की खोज असंग की खोज
4. जीवन यानी परमात्मा प्रभु तो द्वार पर ही खड़ा है

In the end of ch.4 of the text of book from Shailendra stated: "बिड़ला क्रीड़ा केंद्र, बंबई. दिनांक 8 सितंबर, 1969" ~"Birla Sports Center, Bombay Dated September 8, 1969". --DhyanAntar 05:50, 24 July 2018 (UTC)