Osho Days

From The Sannyas Wiki
Jump to: navigation, search


The writer came from the West to the East in search of true inner experience. She became a sannyasin--Ma Prem Vanya, and lived with Osho continuously at Poona-1, in Oregon, and in the Poona-2 phase, then she joined Oshodhara. This book is her spiritual biography.
ओशो डेज़
लेखिका सच्चे आंतरिक अनुभव की खोज में पश्चिम से पूर्व आई, एक संन्यासी बनी - मा प्रेम वान्या, और लगातार आश्रमवासी रही। पूना-1 चरण, ओरेगॉन और पूना-2 चरण के दौरान, जिंदगी के महत्वपूर्ण साल ओशो के सान्निध्य में बिताये। फिर वह ओशोधारा में शामिल हो गईं। यह पुस्तक उनकी आध्यात्मिक जीवन-गाथा है।
author
Ma Prem Vanya (Ma Osho Vanya)
language
Hindi
notes

editions

Osho Days small.jpg

Osho Days

Year of publication : 2007
Publisher : Limass Foundation
Edition no. : 1
ISBN  : none
Number of pages : 136
Hardcover / Paperback / Ebook : P
Edition notes :